Black Adam Review: ड्वेन ने ‘ब्लैक एडम’ के किरदार में डाली जान, जानें क्या है खास और कहां खाई मात…

फिल्म: Black Adam

निर्देशक: Jaume Collet-Serra

स्टार कास्ट: Dwayne Johnson, Sarah Shahi,Viola Davis, Pierce Brosnan

कहां देखें: थिएटर्स

क्या है कहानी: फिल्म की कहानी शुरू होती है कांधाक (2600 बीसी) से, जहां आज की ही तरह कुछ अच्छे लोग हैं और कुछ बुरे हैं। बुरे लोगों का मुखिया/सरजात एख-तॉन है। जो एक क्राउन(ताज) के ब्लैक मैजिक की मदद से कांधाक पर कब्जा करना चाहता है। ऐसे में वो वहां के लोगों को ही गुलाम बना लेता है और उनसे काम करवाता है। फिर एक दिन एक बच्चा उसका विरोध करता है और उसे मिलती है शजाम की ताकत। इसके बाद वो एख-तॉन को मार देता है। फिल्म का पहला फेज यहीं खत्म होता है और इसके बाद फिल्म का मजेदार हिस्सा शुरू होता है, जिसकी अच्छी झलक ट्रेलर में भी देखने को मिली है। दुनिया आगे बढ़ चुकी है और एक बार फिर से कुछ लोग एख-तॉन की तरह ही राज करना चाहते हैं, ऐसे में उन्हें रोकने की जिम्मेदारी आती है ब्लैक एडम पर…। सिर्फ ब्लैक एडम के साथ ही एक दूसरी शक्ति को रोकने के लिए जस्टिस सोसाइटी ऑफ अमेरिका की एंट्रूी होती है। अब क्या ब्लैक एडम ऐसा कर पाता है और इस सफर में उसे क्या कुछ देखने को मिलता है, इसके लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

क्या कुछ है खास: फिल्म में सभी किरदार एक से बढ़कर एक हैं और ड्वेन जॉनसन ने ब्लैक एडम के किरदार में जान डाली है। फिल्म की सिनेमैटोग्राफी और बैकग्राउंड म्यूजिक काफी स्ट्रॉन्ग है, जो आपको फिल्म देखते हुए एक जोरदार एक्साइटमेंट देता है। फिल्म में ड्वेन के साथ ही साथ बाकी किरदारों ने भी अच्छा काम किया है। फिल्म देखते हुए आपको भी कई बार ये एहसास होगा कि क्या ब्लैक एडम हीरो है या फिर वो हीरो से हटकर है, क्या वो विलेन हैं। क्योंकि हीरो की परिभाषा करीब करीब सभी के लिए अलग होती है। ड्वेन के अलावा जेम्स बॉन्ड बनकर दिल जीतने वाले पियर्स ब्रॉसनन को भी देखना मजेदार है।

कहां खाई मात: फिल्म का सबसे कमजोर हिस्सा इसकी कहानी है, जो काफी बेहतर हो सकती थी लेकिन क्लाइमैक्स के पहले ही आप थोड़ा हुआ ठगा सा महसूस करते हैं। डीसी जो अभी तक शजैम में दिखा रहा था, वो और ब्लैक एडम अलग नहीं है। दरअसल ब्लैक एडम ही शजैम है, हालांकि जो शजैम हम देखते आ रहे हैं, उससे ये करीब 5 हजार साल पुरानी बात है। फिल्म का दूसरा कमजोर हिस्सा इसकी एडिटिंग है। फिल्म को देखकर ऐसा लगता है कि एडिटिंग टेबल पर मेहनत नहीं की गई है और कई सीन्स को काफी लंबा खींचा गया है। जिससे कई बार आप बतौर दर्शक ऊब जाते हैं। कहानी और एडिटिंग के बाद फिल्म जहां खरी नहीं उतरती है, वो है वीएफएक्स। इस फिल्म से बेहतर वीएफएक्स हम पहले भी देख चुके हैं। ऐसे में ये फिल्म उस उम्मीद पर भी खरी नहीं उतरती है।

देखें या नहीं: फिल्म ब्लैक एडम में वो सब कुछ है जो भी आप एक सुपरहीरो फिल्म या डीसी यूनिवर्स की फिल्मों से उम्मीद करते हैं। ड्वेन जॉनसन को ब्लैक एडम के किरदार में देखना फैन्स के लिए एक विजुअल ट्रीट है। फिल्म के वीएफएक्स या कहानी कुछ बेहद खास या हटकर नहीं हैं। लेकिन ड्वेन और डीसी के फैन्स इसे जरूर देख सकते हैं। हालांकि फिल्म का क्लाइमैक्स काफी शानदार है, जहां हैनरी केविल सुपरमैन के किरदार में ब्लैक एडम के सामने नजर आते हैं।

About शिवांकित तिवारी "शिवा"

शौक से कवि,लेखक, विचारक, मुसाफ़िर पेशे से चिकित्सक! शून्य से आरंभ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *